लौंग के फायदे और नुकसान – laung ke fayde aur nuksan, clove benefits in hindi

दोस्तों कुदरत ने हमें बेशुमार तोहफे दिये हैं फल, सब्जियां, फूल मसाले और ना जाने क्या-क्या । उन्हीं तोहफों में से एक है लौंग – यह एक ऐसा फूल है जो एक पौधे से हमें प्राप्त होता है। लौंग मसाले में इस्तेमाल किया जाता है, आमतौर पर सब इसे मसाले के रुप में ही जानते हैं | यह खाने में एक अनोखा स्वाद लाने के साथ साथ भीनी-भीनी ख़ुशबू भी लाता है। laung ke fayde – यह एक प्रकार की दवाई व घरेलू नुस्खों में काफी लाभकारी है । यह तासीर में गर्म होता है और हर छोटे बड़े दर्द में काफी फायदा करता है।

क्या आप जानते हैं कि लौंग दो प्रकार की होती है एक नीली लौंग और एक काली जो हम आम इस्तेमाल करते हैं। नीली लौंग का तेल मशीनों द्वारा निकाला जाता है और काफी सारी बीमारियों में इसका प्रयोग किया जाता है । लौंग के पेड़ की छाल, पत्तियां, फूल, कलियाँ हर चीज का प्रयोग दवाईयाँ बनाने में किया जाता है ।

laung ke fayde

लौंग की उपज – laung kahan payi jati he

लौंग तटीय प्रदेशों में पाया जाता है । रेतीले स्थानों पर यह नहीं होते, यह ज्यादातर केरल में पाया जाता है । इंडोनेशिया में ट्र्नेट नाम का एक टापू है, यहां काफी सारे मसालों के पेड़ हैं इन्हीं में से एक पेड़ लगभग  300-350 साल पुराना है | इसे एफो नाम से जाना जाता है यह बेहद लम्बा फैला हुआ पेड़ है जो आज भी मौजूद है। धीरे- धीरे इसके बीज फ्रांस से होते हुए अन्य देशो में ले जाये गये ।

50  ग्राम  लौंग के पोषक तत्व – laung mein kya kya hota he



आयरन                           32.5%

फाइबर                           17 gm

पोटैशियम                       510 mg

प्रोटीन                             3 gm

मैगिनिशियम                   32

कैल्शियम                        31%

विटामिन                          1.5%

सोडियम                          138. mg

कार्बोहाइड्रेट                    33 gm

 

लौंग से होने वाले लाभ – laung ke fayde



1 – प्राकृतिक सेनेटाइज़

ठंडी लौंग की चाय एक हैंड सेनेटाइज़र के रूप में काम करती है। ये बात कुछ ही लोगों को पता है। इसके लिये आपको हाथ में थोड़ी सी लौंग की चाय लेकर उससे दोनों हाथ साफ करने हैं। इससे जो घर्षण पैदा होता है उससे हाथ के कीटाणु नष्ट हो जाते हैं और ये बिना केमिकल का है, इसलिए इसके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होंगे ।

2 – दर्द में राहत 

लौंग को सेक कर एक कपड़े में रख लें अब इसे जिस स्थान पर दर्द हो रहा है वहां सिकाई करें दर्द में आराम मिलेगा ।

3 – मुँह की दुर्गन्ध

यदि मुँह से बदबू आती है तो लौंग को मुँह में रख कर चूसने से मुँह की दुर्गंध दूर हो जाती है।

4 – पेट की समस्याओं में राहत

लौंग हमारे पाचन तंत्र को अच्छा रखती है लौंग से पेट दर्द , बदहजमी जैसी बीमारियों से निजात पाया जा सकता है।

5 – रक्त सम्बन्धित समस्याओं को दूर करता है

लौंग हमारे रक्त के स्तर को सामान्य रखता है । रक्त संचार अच्छा करता है और खून को साफ करता है ।

6 – आंतों के कीड़े नष्ट हो जाते हैं

पुराने जमाने से ही लौंग की चाय का इस्तेमाल आंतों के कीड़े मारने के के लिए किया जाता है। लौंग में मौजूद एंटी-इनफ्लेमेटरी तत्व आंतों के परजीवी हटा देते हैं, जिससे कि पेट में दर्द और अन्य समस्याओं से निजात पाया जा सकता है।

7 – लौंग मेहन्दी के रंग को गहरा करता है

यदि आप हाथों पर मेहन्दी लगाते हैं तो उसका रंग और ज्यादा डार्क करने के लिये आप लौंग को तवे पर गर्म करें और उसके धुएँ को हाथों पर लें या उस धुएँ से मेहन्दी लगे स्थान पर सेक करें । इससे आपकी मेहन्दी का रंग और डार्क हो जायेगा ।

8 – रतौंधी रोग में laung ke fayde

थोड़ी सी लौंग को बकरी के दूध में  मिलाकर या उसे घिसकर आँखों में लगाने से यह रोग दूर हो जाता है। इसे खजूर से भी दूर किया जा सकता है ।

9 – हैजा के लिये

बताशे पर लौंग के तेल की एक दो बूँदे डालकर खाने से इस रोग की रोकथाम की जा सकती है।

10 – तनाव से मुक्ति

लौंग के प्रयोग से आप तनाव से मुक्ति पा सकते हैं | यह हमारी मानसिक शांति के लिये काफी जरुरी है। हमारी याददाश्त के लिये भी यह काफी जरुरी है । इससे अवसाद में भी आराम मिलता है।

11 – चेहरे के लिये laung ke fayde

चेहरे पर यदि मुँहासे हो जायें तो लौंग के तेल का इस्तेमाल त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होता है।

12 – गर्भवती स्त्री के लिये laung ke fayde

गर्भवती स्त्री को यदि उल्टियाँ हो रही हों तो मिश्री की चाशनी में लौंग को पीसकर खिला दें इससे तुरन्त उल्टी बंद हो जाती है |

13 – स्ट्रेस को करें छू मंतर

लौंग स्ट्रेस को छूमंतर कर देता है आप इसे नहाने वाले पानी में डाल कर स्नान करें या फिर इसकी खु़शबू लें इससे मन को अपार शांति मिलती है और इससे आप काफी हल्का महसूस करेंगे ।

लौंग के नुकसान – laung ke nuksan



  • लौंग का अधिक प्रयोग करने से एलर्जी होने की संभावना हो सकती है।
  • अत्यधिक मात्रा में इसका प्रयोग ना करें क्योंकि इसकी तासीर काफी गर्म होती है।
  • गर्भवती स्त्री को लौंग का इस्तेमाल सोच समझ के करना चाहिये इससे उन्हें एलर्जी हो सकती है।
  • कभी भी दर्द निवारक दवा के साथ लौंग नहीं लेनी चहिये।
  • छोटे बच्चों को लौंग के प्रयोग व लौंग के तेल से दूर रखना चाहिये ।
  • ज्यादा लौंग के इस्तेमाल से कई सारे विषैले तत्व हमारे शरीर में एकत्रित हो जाते हैं ।

 

तो दोस्तों आप भी लौंग से अपने छोटे- मोटे रोगों का ईलाज घर पर ही कर सकते हैं | पर लौंग जहां एक तरफ लाभकारी है वहीं लौंग का सही मात्रा में प्रयोग ना करना नुकसांदेह भी है इसलिये कहा जाता है की “अति हर चीज की बुरी होती है”। किसी भी चीज के फाइदे तभी होते हैं जब उसे सही मात्रा में सही समय पर इस्तेमाल किया जाये ।

स्वस्थ रहिये खुश रहिये । पढ़ने के लिये धन्यवाद ।

ये भी पढ़ें –

खर्राटों से परेशान हैं तो कीजिये ये उपाय
कपूर दिलायेगा निजात स्त्री पुरुष के इन गुप्त रोगों से
बेहद लाभकारी है खजूर
शरीफा खाने से रहेंगे हमेशा जवाँ आप

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *